Headlines
Loading...
हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है ? What is Status Certificate in Hindi

हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है ? What is Status Certificate in Hindi

What is status certificate in hindi : - अक्सर आप लोगों ने जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र के बारे में जरूर सुना होगा। लेकिन क्या कभी आपने हैसियत प्रमाण पत्र के बारे में सुना है। अब आपको हैसियत शब्द को देख कर के यह लग रहा होगा कि यह व्यक्ति की औकात बताता हैं। तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। बल्कि हैसियत प्रमाण पत्र को बनाने का ओर ही मतलब होता है।

क्या आप भी जानना चाहेंगे कि हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है ? हैसियत प्रमाण पत्र कैसे बनता है ? हैसियत प्रमाण पत्र क्यों बनवाते हैं ? तब आप इस ब्लॉग को शुरू से लेकर के अंत तक जरूर पढ़ें। ताकि आपके मन में जितने भी सवाल उठ रहे हैं। वह सभी क्लियर हो जाएं। 

हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है ? What is Status Certificate in Hindi


हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है ? What is Status Certificate in Hindi 

हैसियत प्रमाण पत्र किसी भी व्यक्ति का बनाया जा सकता हैं। जिसमें व्यक्ति की चल और अचल संपत्ति का पूरा ब्यौरा शामिल होता है। चल संपत्ति का मतलब ऐसी संपत्ति जो चल रही है। जैसे कार, बाइक या बैंक में जमा किया गया पैसा। अचल संपत्ति का मतलब ऐसी संपत्ति जो चल नहीं सकती। जैसे मकान, घर, गोदाम और प्रॉपर्टी इत्यादि ।

हैसियत प्रमाण पत्र का मतलब किसी भी व्यक्ति की वैल्यूएशन बताना कि इस व्यक्ति की कितनी वैल्यू है। कितनी इसके पास जमीन जायदाद और संपत्ति है। साथ ही में यह व्यक्ति कितने पैसे वाला है। 

जिस तरह से व्यक्ति की आय को प्रूफ करने के लिए आय प्रमाण पत्र, जाति को प्रूफ करने के लिए जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास को प्रूफ करने के लिए मूल निवास प्रमाण पत्र की जरूरत पड़ती है। उसी तरीके से व्यक्ति की टोटल संपत्ति को प्रूफ करने के लिए हैसियत प्रमाण पत्र की जरूरत पड़ती है। 

हैसियत प्रमाण पत्र का इस्तेमाल ज्यादातर सरकारी कामों के लिए किया जाता है। क्योंकि जिस भी किसी व्यक्ति को सरकारी काम प्राप्त करना होगा वहीं व्यक्ति हैसियत प्रमाण पत्र बनवाएगा। बेसिकली इंडिया में सरकारी काम को करने के लिए टेंडर लेना, सरकारी काम को ठेके पर लेना और आर्म्स लाइसेंस लेने के लिए हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने की जरूरत पड़ती है। 


हैसियत प्रमाण पत्र कौन बनवा सकते है ? 

बेसिकली इंडिया में सरकारी काम को करने के लिए जो व्यक्ति टेंडर और ठेका लेता है। केवल वही हैसियत प्रमाण पत्र बनवाता है। यानी आप इस तरह से समझ सकते हैं कि सरकारी काम को करने के लिए आम आदमी में से कोई भी व्यक्ति काम को ठेके पर लेता है। उसी को हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने की जरूरत पड़ती है। क्योंकि इसके बिना कोई भी सरकारी डिपार्टमेंट सरकारी टेंडर नहीं देगा।


हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने के लिए दस्तावेज क्या है ? 

पैन कार्ड

आधार कार्ड 

ड्राइविंग लाइसेंस 

वोटर आईडी कार्ड 

डिक्लेरेशन लेटर  

पासपोर्ट साइज फोटो 

प्रॉपर्टी डिस्क्रिप्शन


हैसियत प्रमाण पत्र ऑनलाइन कैसे बनाएं ? 

पहले हैसियत प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आपको ऑफलाइन फॉर्म भर करके कई तरह के कार्यालयों के चक्कर काटने पड़ते थे। लेकिन अभी सभी काम ऑनलाइन होने के कारण आप अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र या सीएससी सेंटर पर जाकर के ऑनलाइन फॉर्म अप्लाई करवाकर हैसियत प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं।

इसके अलावा हैसियत प्रमाण पत्र आप अपने किसी नजदीकी वकील के थ्रू भी बनवा सकते हैं। 

ये भी पढ़े...

दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको यह जानकारी हैसियत प्रमाण पत्र क्या होता है ? What is Status Certificate in Hindi ? जरुर पसंद आई होगी। अगर पसंद आए तब आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर कीजिएगा।   

0 Comments: