Headlines
Loading...
पालनहार योजना क्या हैं ? इसका फॉर्म कैसे भरे ?

पालनहार योजना क्या हैं ? इसका फॉर्म कैसे भरे ?

What is Palanhaar Yojana Full Information in Hindi : - भारत में ऐसे कई बच्चे हैं जिनके मां बाप न होने के कारण वह बेसहारा होते हैं। उनका पालन पोषण करने के लिए किसी भी तरह की व्यवस्था नहीं होती है। तो इसी समस्या का समाधान निकालते हुए राजस्थान सरकार ने राजस्थान के सभी अनाथ बच्चों के लिए पालनहार योजना की शुरुआत की है।

जिसके तहत निराश्रित बच्चों का पालन पोषण और शिक्षा प्राप्त करवाने के लिए कुछ मतदान राशि उपलब्ध करवा रही है। तो आज हम आपको इस ब्लॉग के माध्यम से पालनहार योजना क्या है ? पालनहार योजना का लाभ उठाने के लिए योग्यता क्या है ? पालनहार योजना का फॉर्म भरने के लिए दस्तावेज क्या है ? पालनहार योजना के लाभ क्या है ? इन सभी सवालों के जवाब आज के इस ब्लॉग में हम आपको देने वाले हैं।


योजना का नाम - पालनहार योजना 

सरकार - राजस्थान सरकार 

लाभार्थी - राज्य के सभी अनाथ बच्चे

उद्देश्य - अनाथ बच्चों का पालन पोषण और शिक्षा के लिए धनराशि देना


पालनहार योजना क्या हैं ? What is Palanhar Yojana in Hindi 

राजस्थान के सभी निराश्रित बच्चों का पालन पोषण और शिक्षा दिलवाने के उद्देश्य से राजस्थान सरकार ने पालनहार योजना की शुरुआत की है। जिसके तहत सभी बेसहारा बच्चों को ₹500 से ₹1000 प्रत्येक महीने दिए जाएंगे। इसके अलावा बच्चों को वस्त्र जूते, चप्पल और पुस्तकें खरीदने के लिए अलग से ₹2000 प्रत्येक वर्ष दिए जाएंगे। 

हमारे राजस्थान में ऐसे कई बच्चे हैं जिनके माता-पिता की मृत्यु हो जाने के बाद वह अनाथ हो जाते हैं या वह किसी कारण से बेसहारा हो जाते हैं तो उनका पालन पोषण और शिक्षा दिलवाने के लिए कोई भी व्यवस्था नहीं होती है। जिसके चलते राजस्थान सरकार ने पालनहार योजना को लागू किया है। इस योजना से बच्चों का पालन पोषण ही नहीं होगा बल्कि उनको शिक्षा भी प्राप्त होगी। इसी के साथ ही उनको अलग से जूते, चप्पल और भी अन्य खर्च के लिए अलग से पैसे भी दिए जाएंगे। 


पालनहार योजना में कितनी धनराशि मिलती है ? 

इस योजना के तहत जिन बच्चों की उम्र 0 से लेकर के 5 वर्ष तक हैं। उन सभी को प्रत्येक महीने ₹500 की धनराशि उपलब्ध करवाई जाएगी। लेकिन जिनकी उम्र 5 वर्ष से 18 वर्ष तक की है। उन सभी को प्रत्येक महीने ₹1000 की धनराशि मिलेगी। इसी के साथ ही अन्य खर्चों के लिए प्रत्येक साल ₹2000 की राशि अलग से दी जाएगी। 


पालनहार योजना का लाभ उठाने के लिए योग्यता क्या है ? Eligibility for Palanhar Yojana in Hindi

> इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए।

> पारिवारिक आय ₹120000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।

> अनाथ बच्चों को 2 वर्ष की उम्र में आंगनवाड़ी केंद्र पर और 6 वर्ष की उम्र में बच्चों को स्कूल में भेजना अनिवार्य है।

> जिन बच्चों के पास सहारा नहीं है यानी वह बेघर है या इसके अलावा जिनके माता-पिता की मृत्यु हो गई है और वह अभी अनाथ है वे सभी बच्चे इस योजना के लिए पात्र हैं।

> मृत्युदंड या आजीवन कारावास की सजा भुगतने वाले माता-पिता के बच्चे भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं। 

> पेंशन को प्राप्त कर रही विधवा माता के बच्चे

> विकलांगता की श्रेणी में आने वाले माता-पिता के बच्चे

> दोबारा से विवाह की हुई विधवा माता के बच्चे

> जिस महिला ने तलाक ले लिया है उस महिला के बच्चे

> किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित माता-पिता के बच्चे

अगर आप भी इन सभी योग्यताओं में से कोई योग्यता रखते हैं तो आप भी इस योजना के लिए एलिजिबल है। 


पालनहार योजना का फॉर्म भरने के लिए दस्तावेज क्या है ? Palanhar Yojana Required Documents

1. पालनहार का जन आधार कार्ड

2. पालनहार का राशन कार्ड या पहचान पत्र

3. पालनहार का मूल निवास प्रमाण पत्र

4. पालनहार का आय प्रमाण पत्र (1.20 लाख रुपयों का)

5. बच्चे का आधार कार्ड

6. विद्यालय में अध्ययन होने का प्रमाण पत्र या बच्चे का

7. आंगनवाड़ी में रजिस्ट्रेशन का प्रमाण पत्र

8. पासपोर्ट साइज फोटो

9. मोबाइल नंबर


ऑप्शनल दस्तावेज : - 

1. माता पिता की मृत्यु हो जाने पर मृत्यु प्रमाण पत्र

2. दंड आदेश की फोटोकॉपी

3. विधवा पेंशन भुगतान आदेश पीपीओ नंबर

4. बोर्ड द्वारा जारी किया गया चिकित्सा प्रमाण पत्र

5. विकलांगता प्रमाण पत्र

6. तलाकशुदा का प्रमाण पत्र


पालनहार योजना के लाभ क्या है ? Benefits of Palanhaar Yojana

> इस योजना का लाभ उठाने से निराश्रित बच्चों का पालन पोषण सही ढंग से हो सकेगा।

> निराश्रित बच्चों को पढ़ने लिखने के लिए खर्चे की दिक्कत नहीं होगी। 

> निराश्रित बच्चों का पालन पोषण उनके दादा दादी, चाचा चाची, मामा मामी या कोई अन्य रिश्तेदार ही करते हो। उन सभी को पालनहार योजना के तहत लाभ दिया जाएगा। 

> इस योजना का लाभ उठाने से बच्चों को उनके पालन पोषण और शिक्षा के लिए हर महीने ₹500 से ₹1000 की धनराशि मिलती हैं। 

> चप्पल, जूते और वस्त्र खरीदने के लिए अलग से ₹2000 की धनराशि प्रत्येक वर्ष दी जाती है। 


पालनहार योजना का फॉर्म कैसे भरें ? How to apply palanhar Yojana in Hindi

> सबसे पहले आप पालनहार योजना से जुड़े सभी दस्तावेज तैयार करके अपने नजदीकी किसी ई मित्र कियोस्क को दे दें। 

> उसके बाद ईमित्र किओस्क आपका पालनहार योजना के लिए ऑनलाइन फॉर्म भर देगा। 

> इसके बाद पालनहार योजना से संबंधित विभाग के द्वारा आपके द्वारा भरे गए ऑनलाइन फॉर्म को चेक किया जाएगा। 

> अगर आपका आवेदन फार्म सही तरीके से वेरीफाई हो जाता है। तब आपको इस योजना का लाभ मिलना स्टार्ट हो जाता है। अगर आवेदन फॉर्म में किसी भी प्रकार की गलती होती है तो आपके आवेदन फॉर्म को रिजेक्ट कर दिया जाता है और आपको फिर से फॉर्म अप्लाई करना होता है। 

Note : - इस योजना के तहत आवेदन फॉर्म सबमिट करने के बाद आपको प्रत्येक वर्ष यानी जुलाई महीने में फॉर्म को रिन्यू करवाना पड़ता है। 

तो दोस्तों आशा करते हैं कि आपको हमारी द्वारा दी गई जानकारी palanhar yojana kya hai जरूर पसंद आई होगी अगर पसंद आए तब आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर कीजिएगा और इसके अलावा अगर आपका इस योजना से रिलेटेड कोई अन्य सवाल हो या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। 

0 Comments: