Headlines
Loading...
पुराने विवाह प्रमाण पत्र का डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएं ?

पुराने विवाह प्रमाण पत्र का डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएं ?

How to Make Digital Marriage Certificate of Old Marriage Certificate : - दोस्तों मेरे पास एक भाई का कमेंट आया था जो कि यह बोल रहा था कि उसके पास मैरिज सर्टिफिकेट है। लेकिन जो मैरिज सार्टिफिकेट है वह पुराना वाला है। पुराना वाला यानी की कुछ साल पहले तक जब भी किसी को जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र और विवाह प्रमाण पत्र बनवाना होता था। तो जो ग्राम पंचायत है उसकी तरफ से एक फॉर्म या पन्ना दिया जाता था जिस पर पैन से लिखा जाता था जैसे कोई विवाह प्रमाण पत्र बनवा रहा है तो पैन से ही वर वधु का नाम और उसका विवाह स्थल का नाम सबकुछ पैन से ही लिखा जाता था। जिसे ऑफलाइन विवाह प्रमाण पत्र भी बोल सकते हैं।

किन्तु अभी जो विवाह प्रमाण, जन्म प्रमाण पत्र और मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किए जाते है। वह सभी डिजिटल हो गए हैं जो कि कंप्यूटराइज्ड आते हैं। अभी अगर आप अपने पुराने मैरिज सर्टिफिकेट को डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट में बदलवाना चाहते हैं। तो उसके लिए क्या प्रोसेस है ? वह हम आपको इस लेख में आपको बताने वाले हैं। 

मैने हमारे गांव के ही दो बंदों के पुराने मैरिज सर्टिफिकेट को डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट में बदलवाया है। तो मैंने जो प्रोसेस की थी वही प्रोसेस मैं आपको बता रहा हूं। यह प्रोसेस आपके यहां भी काम करेगी, अगर आप राजस्थान से हैं। 


पुराने विवाह प्रमाण पत्र का डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट कैसे बनवाएं ? 

पुराने विवाह प्रमाण पत्र का डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट बनवाने के लिए नीचे बताए गए प्रोसेस को फॉलो करें : - 

> पहली बात तो यह कि आपका मैरिज सर्टिफिकेट जिस भी ग्राम पंचायत से बना हुआ है। आपको उसी ग्राम पंचायत में यह प्रोसेस करनी पड़ेगी। जैसे कि मान लीजिए आप खुद एक दूल्हा या वर है और आपकी ग्राम पंचायत से ही आपका मैरिज सर्टिफिकेट बना हुआ है। तो आपको अपने गांव की पंचायत में ही यह प्रोसेस करनी पड़ेगी। आप अपने मेर्रिज सर्टिफिकेट के ऊपर देख लीजिएगा, जिस ग्राम पंचायत के द्वारा वह मैरिज सर्टिफिकेट जारी किया गया है। उसका एड्रेस और नाम आपके सर्टिफिकेट पर होगा। तो आप वहां पर देख लीजिएगा की आपके सर्टिफिकेट पर आपके गांव का नाम है या आपके ससुराल की गांव का नाम। पहले आप यह कंफर्म कर ले। 

> अभी मान लेते हैं कि आप खुद ही वर या दूल्हा है और आपके गांव के द्वारा की ग्राम पंचायत के द्वारा ही आपका मैरिज सर्टिफिकेट जारी किया गया है। तो अभी आपको क्या करना होगा कि वह पुराना वाला मैरिज सर्टिफिकेट लेना है। इसके साथ साथ अपना आधार कार्ड, वधु का आधार कार्ड, अगर आपके पास स्कूल की मार्कशीट है तो वह भी ले लीजिएगा, अच्छा रहेगा, क्योंकि आपकी जन्म दिनांक देखने के लिए कई बार ग्राम विकास अधिकारी या ग्राम सेवक मांग लेते हैं। तो आपके पास मार्कशीट है तो वह भी ले लीजिएगा। 

साथ में आपको दूल्हा और दुल्हन दोनो के आधार कार्ड लेने हैं। साथ में आपको दूल्हा और दुल्हन की एक एक सिंगल फोटो और एक जॉइंट फोटो लेनी पड़ेगी। हमारे यहां तो इतने ही डॉक्यूमेंट लगे हैं। 

> इसके अलावा आपके ग्राम पंचायत में हो सकता है कि गवाह के आधार कार्ड की कॉपी भी मांग लें। तो आपको क्या करना है। की एक गवाह आपके गांव का हो उसका आधार कार्ड और एक गवाह वधु के गांव का हो उसके आधार कार्ड की कॉपी ले लीजिएगा और इतने डॉक्यूमेंट आपको लेने हैं। 

> अभी क्योंकि राजस्थान में सभी ग्राम पंचायत में ग्राम सेवक को ही जन्म प्रमाण पत्र, मृत्यु प्रमाण पत्र और विवाह प्रमाण पत्र जारी करने का अधिकार होता हैं। इसलिए आपका जो विवाह प्रमाण पत्र है वह भी आपके गांव के जो ग्राम सेवक है उन्होंने ही जारी किया था। तो आपका जो पुराना मैरिज सर्टिफिकेट है वो तो वो खुद जमा कर लेंगे और आपके डॉक्यूमेंट देखेंगे उसके बाद आपका जो पुराना सर्टिफिकेट है या विवाह प्रमाण पत्र उसी को वो ऑनलाइन करेंगे। इसके बाद वो आपको डिजिटल सर्टिफिकेट या डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट निकालकर वही देंगे। 

> कुल मिलाकर के बात यही है की आपकी जो ग्राम पंचायत है उसमें आपको अपना पुराना मैरिज सर्टिफिकेट जमा करवाना पड़ेगा और साथ ही आपको अपने आधार कार्ड की कॉपी, जॉइंट फोटो और एक एक सिंगल फ़ोटो देनी होगी और ग्राम सेवक ही डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट बनाके देगा, बस इतना प्रोसेस है। 

> सेम इसी प्रॉसेस से मैने हमारे गांव के दो बंदों के पुराने मैरिज सर्टिफिकेट को डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट में कन्वर्ट किया है। 

> अभी देखिए अगर आपकी ग्राम पंचायत वाले मना कर देते है की आपका कुछ नही हो सकता मतलब आपका डिजिटल सर्टिफिकेट नहीं बनेगा, हमारे पास कोई सॉल्यूशन नही इस प्रकार से कहें तो आपको क्या करना है की 181 पर शिकायत करनी हैं की मेरे पास जो पुराना मैरिज सर्टिफिकेट है वो मेरे को डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट बनवाना है। लेकिन ग्राम पंचायत वाले मना कर रहे है। तो ऐसे में क्या होगा ग्राम सेवक को आगे से ऑर्डर आएगा की इस बंदे का मैरिज सर्टिफिकेट बनाकर देना हैं। क्योंकि कुल मिलाकर जो ग्राम पंचायत होती है उसी का कार्य होता है। अगर वह मना करते है तो वो उन्ही की प्रॉब्लम हैं। बस आप तो शिकायत कर दीजिएगा वो आपका काम जरूर करेंगे। 

वैसे यही एक तरीका है जिससे आप अपने पुराने वाले मैरिज सर्टिफिकेट को डिजिटल मैरिज सर्टिफिकेट में बदलवा सकते हैं। अगर आपका अभी इस टॉपिक से रिलेटेड कोई सवाल या सुझाव हो तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताइएगा। 

0 Comments: