Headlines
Loading...
सीमांत किसान, लघु किसान और वृहद किसान में क्या अंतर होता हैं ?

सीमांत किसान, लघु किसान और वृहद किसान में क्या अंतर होता हैं ?

What is the difference among marginal, small and large farmer in hindi : - भारत एक कृषि प्रधान देश हैं। जिसमें अभी तक 70% ऐसे ग्रामीण परिवार है जो अपनी आजीविका चलाने के लिए मुख्य रूप से कृषि पर डिपेंड रहते हैं। लेकिन इनमें से 82% किसान लघु और सीमांत कैटेगरीयों में डिवाइड हैं। आपको तो जानकारी ही होगी की भारत सरकार किसानों को उनकी जमीन के आधार पर तीन कैटेगोरियों (सीमांत, लघु और वृहद या बड़े किसान) में बांटती हैं।

लेकिन काफी सारे भाइयों को सीमांत, लघु और वृहद किसान कौन होते हैं ? सीमांत, लघु और वृहद किसानों में अंतर क्या हैं ? कौनसा किसान सीमांत किसान है ? कौनसा किसान लघु किसान हैं ? ये सभी सवाल हर किसी के मन में जरुर होता हैं। तो हमने सोचा क्यों न आपको भी इन सभी सवालों के बारे में जानकारी दी जाए। अगर आपको सीमांत, लघु और वृहद या बड़े किसान के बारे में जानकारी जाननी हो तो आप इस ब्लॉग को शुरू से लेकर के अंत तक जरूर पढ़े ताकि आपको इस टॉपिक के बारे में संपूर्ण नॉलेज हो जाए। 


सीमांत किसान, लघु किसान और वृहद किसान में क्या अंतर होता हैं ? 

भारत सरकार (Government of India) ने किसानों को तीन कैटेगरी में डिवाइड किया है। जैसे: - 

1. सीमांत किसान

2. लघु किसान या छोटे किसान

3. वृहद किसान या बड़े किसान 


1. सीमांत किसान : - ऐसे किसान जिनके पास एक हेक्टेयर या 2.5 एकड़ जमीन है या इससे कम जमीन है तब वे सभी किसान सीमांत किसान की कैटेगरी में आते हैं। 

2. लघु किसान या छोटे किसान : - ऐसे किसान जिनके पास एक हेक्टेयर से ज्यादा और 2 हेक्टेयर या इससे कम जमीन हो तब वे सभी किसान लघु किसान कैटेगरी के अंदर आते हैं। अगर हम वही एकड़ में बात करें तब जिन किसानों के पास 2.5 एकड से ज्यादा जमीन, लेकिन 5 एकड़ से कम जमीन है तो वह किसान लघु किसान कैटेगरी में आता है। 

3. वृहद किसान या बड़े किसान  : - वृहद किसान को बड़े किसान के नाम से भी जाना जाता है। इसमें वे सभी किसान शामिल होते हैं जिनकी जमीन 2 हेक्टेयर से ज्यादा होती हैं। 

जब हमे कोई ऑनलाइन या फिर कोई ऑफलाइन फॉर्म भरवाना होता हैं। तब उस समय वहां पर हमे तीन कैटेगरी सीमांत, लघु और वृहद किसान की मिलती हैं। इनमे से हमे कैटेगरी का चयन करना होता हैं। की हम किस कैटेगरी के किसान हैं। लेकिन हमे इसके बारे में ज्यादा कुछ पता ना होने की वजह से कन्फ्यूज हो जाते हैं की कौनसी कैटेगरी सेलेक्ट करनी हैं। तो अभी आप टेंशन ना ले क्योंकि आप इस पूरे ब्लॉग को पढ़कर के यह समझ जाओगे की आप किस कैटेगरी के किसान हों। 

अब हम उम्मीद करते हैं की आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी जरूर पसंद आई होगी। इसके अलावा आपको इस टॉपिक से सम्बन्धित कोई जानकारी जाननी हो तब आप हमे कॉमेंट करके पूछ सकते हैं। 

0 Comments: